Who is Dhumavati Devi and how popular is her worship?

Dhumavati Devi Story – देवी पार्वती की पूजा हर सुहागन स्त्री अपने सुहाग की रक्षा और सौभाग्य वृद्धि के लिए करती हैं। लेकिन देवी पार्वती का ही एक ऐसा रूप है जिनकी पूजा करने से सुहागन स्त्रियां डरती हैं। इसकी एक बड़ी वजह है। दरअसल देवी पार्वती अपने इस रूप में एक विधवा स्त्री की… Continue reading Who is Dhumavati Devi and how popular is her worship?

Jivitputrika Vrat : Do You Know The Story Behind This Fast

जितिया व्रत कथा – नर्मदा नदी के पास “कंचनबटी” नाम का एक नगर हुआ करता था, वहां राजा मलयकेतु का शासन था। कंचनबटी नगर के पास बालुहटा नामक जगह थी, जिसके पास में एक बड़ा-सा पेड़ था। उस पेड़ के नीचे एक चील और एक गीदड़ रहता था। दोनों में गहरी दोस्ती थी। महिलाओं को… Continue reading Jivitputrika Vrat : Do You Know The Story Behind This Fast

Lord Shiva and his nineteen avatars : All you need to know

भगवान शिव का 19वां अवतार – धर्म की रक्षा करने के लिए भगवान विष्णु ने अनेकों अवतार लिए, इसी के साथ भगवान शिव ने भी धर्म की रक्षा में भाग लेते हुए कई अवतार लिए. धर्म ग्रंथो में उल्लेख मिलता है कि भगवान शिव के 19वें अवतार वृषभ अवतार है, जो देवताओं की रक्षा करने… Continue reading Lord Shiva and his nineteen avatars : All you need to know

Utpanna Ekadashi 2022 Vrat Date, puja timing and significance

उत्पन्ना एकादशी 2022 – सनातन धर्म में आस्था रखने वाले लोग एकादशी व्रत को खास महत्व देते हैं.. एकादशी व्रत का पालन कर भगवान विष्णु जी की पूजा की जाती है.. मार्गशीर्ष मास के कृष्ण पक्ष की एकादशी को उत्पन्ना एकादशी के नाम से जाना जाता है.. साल 2022 में उत्पन्ना एकादशी 20 नवंबर, दिन… Continue reading Utpanna Ekadashi 2022 Vrat Date, puja timing and significance

Vastu Tips For Temple

Vastu Tips For Temple – हिंदू धर्म में पूजा-पाठ का विशेष महत्व होता है. लगभग हर घर में रोजाना सुबह और शाम के समय में पूजा की जाती है. इससे घर में सुख-समृद्धि बनी रहती है, लेकिन कई बार रोजाना पूजा-पाठ करने के बावजूद भी घर में अशांति रहती है और शुभ फल की प्राप्ति… Continue reading Vastu Tips For Temple

The Story Of Mahakaleshwar Ujjain

Mahakaleshwar Ujjain – मध्यप्रदेश के उज्जयिनी के श्री महाकालेश्वर भारत में बारह प्रसिद्ध ज्योतिर्लिंगों में से एक हैं.. महाकालेश्वर मंदिर की महिमा का विभिन्न पुराणों में विशद वर्णन किया गया है.. कालिदास से शुरू करते हुए, कई संस्कृत कवियों ने इस मंदिर को भावनात्मक रूप से समृद्ध किया है.. उज्जैन भारतीय समय की गणना के… Continue reading The Story Of Mahakaleshwar Ujjain

Date, Time, Significance, Kaal Bhairav Jayanti 2022

श्री काल भैरव जयंती 2022 – देवों के देव भगवान शंकर ने भी धरती पर अनेकों अवतार लिए, जिसमें से एक अवतार उनका रौद्र रूप है जिसे काल भैरव के नाम से जाना जाता है. वैसे तो हर माह कालाष्टमी आती है लेकिन कहते हैं कि मार्गशीर्ष मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को… Continue reading Date, Time, Significance, Kaal Bhairav Jayanti 2022

What is the story of Omkareshwar temple?

Omkareshwar Temple – भगवान शिव के प्रसिद्ध 12 ज्योतिर्लिंगों मंदिरों में चौथे स्थान पर पूजे जाने वाला ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग मंदिर, मध्य प्रदेश के खंडवा जिले में स्थित है.. यह मंदिर नर्मदा नदी के किनारे मन्धाता या शिवपुरी नामक ओम के आकार में बने प्राकृतिक टापू पर है. पुराणों में इस टापू को ओमकार पर्वत पर… Continue reading What is the story of Omkareshwar temple?

19 Avatars of Lord Shiva

19 avatars of Lord Shiva – सतयुग से कलयुग तक भगवान विष्णु ने पाप को नष्ट करने के लिए और धर्म स्थापित करने के लिए अनेकों अवतार लिए, उन्हीं के साथ शेष नाग ने भी अपने समय में अलग-अलग अवतार से भगवान विष्णु की सहायता की.. इन सभी के बीच क्या आप ये जानते है… Continue reading 19 Avatars of Lord Shiva

7 Unsolved and Hidden Mysteries of Lord Shiva

Hidden Mysteries of Lord Shiva –   शिव की कितनी पत्नियां थी? भगवान शंकर का विवाह सर्वप्रथम प्रजापति दक्ष की पुत्री सती से हुआ फिर जब वे यज्ञकुंड में कूदकर भस्म हो गई, तब उन्होनें दूसरा जन्म लिया और हिमवान की पुत्री पार्वती कहलाई. कहते है कि गंगा, काली और उमा भी शिव की पत्नियां… Continue reading 7 Unsolved and Hidden Mysteries of Lord Shiva