Sankashti Chaturthi 2022: Day, date, time, rituals and significance

संकष्टी चतुर्थी 2022 – साल में आने वाली संकष्टी चतुर्थी और विनायक चतुर्थी का महत्व सनातन धर्म में अत्यधिक माना जाता है, क्योंकि दोनों चतुर्थी पर गणेश जी की पूजा का विधान है.. हर माह में दो चतुर्थी आती है, एक संकष्टी चतुर्थी जो कृष्ण पक्ष की चतुर्थी पर आती है और दूसरी विनायक चतुर्थी… Continue reading Sankashti Chaturthi 2022: Day, date, time, rituals and significance

Know when is Saubhagya Sundari fast?

सौभाग्य सुंदरी व्रत 2022 – मार्गशीर्ष माह की कृष्णपक्ष की तृतीया तिथि के दिन सौभाग्य सुंदरी व्रत एवं पूजन किया जाता हैं.. इस दिन सम्पूर्ण परिवार शिव परिवार की पूजा करता है.. सौभाग्य सुंदरी व्रत का पालन अविवाहित लड़कियां और सुहागिन स्त्रियां दोनों करती हैं.. इस व्रत के द्वारा वो देवी पार्वती से अखंड सुहाग… Continue reading Know when is Saubhagya Sundari fast?

Unique Information about the mysterious temple of Shiva

Five mysterious temples of Lord Shiva – जब शंभूनाथ के आगे मानी सबने हार भोलेशंकर की महिमा को समझ पाना किसी के वश की बात नहीं… धर्मशास्त्रों में को इस बात का उल्लेख मिलता ही है… साथ ही वर्तमान समय में कई ऐसे उदाहरण भी देखने को मिलते हैं, जिन्हें देखकर लोग केवल श्रद्धा से… Continue reading Unique Information about the mysterious temple of Shiva

Apart from Shri Ram, Ravana was defeated by these too?

Shri Ram And Ravan Story – अधिकतर लोग यही जानते हैं कि रावण सिर्फ श्रीराम से ही हारा था, लेकिन ये सच नहीं है। रावण श्रीराम के अलावा शिवजी, राजा बलि, बालि और सहस्त्रबाहु से भी पराजित हो चुका था, जिसके बारे में बहुत कम लोगों को जानकारी प्राप्त है. श्रीराम रावण की मृत्यु का… Continue reading Apart from Shri Ram, Ravana was defeated by these too?

Do’s And Don’ts To Keep In Mind While Celebrating Kartik Purnima

कार्तिक पूर्णिमा 8 नवंबर 2022 – कार्तिक मास में भगवान विष्णु की विशेष पूजा-अर्चना की जाती है, ऐसा इसलिए क्योंकि यह महीना उन्हें सर्वाधिक प्रिय है.. कार्तिक शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि के दिन उनकी पूजा का महत्व और अधिक बढ़ जाता है, इस दिन भक्त कार्तिक पूर्णिमा का व्रत रखते हैं। कार्तिक पूर्णिमा को… Continue reading Do’s And Don’ts To Keep In Mind While Celebrating Kartik Purnima

What is Dev Diwali and its spiritual significance

देव दिवाली का महत्व – देव दिवाली का त्योहार हर साल कार्तिक पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है जिसे त्रिपुरोत्सव और त्रिपुरारी पूर्णिमा के नाम से भी जाना जाता है. भगवान शिव ने राक्षस त्रिपुरासुर का वध किया था, जिसके बाद ये त्योहार मनाया जाता है. देव दिवाली के दिन श्रद्धालु पवित्र गंगा नदी में… Continue reading What is Dev Diwali and its spiritual significance

Chandra Grahan 2022 Date India , Timings, Sutak Time, Rashi Effects

चंद्र ग्रहण 2022 – चंद्र ग्रहण के समय, सूतक और अपनी राशि पर प्रभाव हर कोई जानना चाहता है। इस बार कार्तिक महीने में ही लगातार दो ग्रहण पड़ने से इसकी अहमियत बढ़ गई है। कार्तिक अमावस्‍या पर सूर्य ग्रहण लगा तो पूर्णिमा पर चंद्र ग्रहण 2022 लगने जा रहा है। ज्‍योतिष के अनुसार, इस… Continue reading Chandra Grahan 2022 Date India , Timings, Sutak Time, Rashi Effects

Legend of Lord Shani – Story behind the most feared God

शनिदेव जी की कथा – शनिदेव साक्षात रुद्र हैं। शनिदेव का शरीर क्रांति इन्द्रनील मणि के समान है। यदि बात करें शनिदेव के स्वरूप की तो, भगवान शनिदेव के शीश पर स्वर्ण मुकूट, गले में माला तथा शरीर पर नीले रंग के वस्त्र सुशोभित हैं। शनिदेव की सवारी गिद्द को कहा जाता है। भगवान शनिदेव… Continue reading Legend of Lord Shani – Story behind the most feared God

Tulsi Vivah 2022 Date, Puja Timing, Shubh Muhurat, Importance

तुलसी विवाह के साथ जानें देवउठनी एकादशी का महत्व – हर साल कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी तिथि पर देवउठनी एकादशी मनाई जाती है। इस एकादशी को देवउठनी, देवोत्थान और देव प्रबोधिनी एकादशी के रूप में भी मनाया जाता है। देवउठनी एकादशी का काफी महत्व होता है। इस तिथि पर भगवान विष्णु चार… Continue reading Tulsi Vivah 2022 Date, Puja Timing, Shubh Muhurat, Importance

Amla Navami 2022: Why Amla is considered a revered tree?

आवंला नवमी 2022 – कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की नवमी को आंवला नवमी मनाई जाएगी. इसे अक्षय नवमी भी कहते हैं. सनातन धर्म में कई वृक्षों को पूजनीय माना गया है, इन्हीं में से एक है आंवला. अक्षय नवमी पर आंवले के पेड़ की पूजा कर उसी के नीचे भोजन करने का विधान है..… Continue reading Amla Navami 2022: Why Amla is considered a revered tree?